Hindi Content का plagiarism कैसे Check करें ?

अगर आप content writing की फील्ड में काम करते हैं तो आप यह जानते ही होंगे कि किसी भी व्यक्ति को duplicate या copied या plagiarised content पसंद नहीं आता है।

हर व्यक्ति चाहता है कि उसकी द्वारा दिखाई गई या प्रस्तुत की गई थी बिल्कुल अलग और original हो। इसलिए अधिकतर लोग online plagiarism checker की तलाश में रहते हैं।

ऐसा इसलिए है क्योंकि किसी दूसरे द्वारा कॉपी किए गए कांटेक्ट या plagiarism content में किसी भी प्रकार की originality देखने को नहीं मिल सकती। यही कारण रहता है कि इससे authentic content नहीं कहा जा सकता और यदि आप एक blogger हैं, तो इस प्रकार की स्थिति में google आप के content को पूरी तरह reject कर देता है।

बेशक आप भी यही चाहते होंगे कि आपके द्वारा प्रस्तुत किए गए कांटेक्ट में पूरी originality हो तथा वह
plagiarised content ना हो। अगर आप भी original content प्रस्तुत करने की इच्छा रखते हैं, तो आपके लिए सबसे बड़ा सवाल यह आता है कि आखिर यह कैसे चेक कर सकते हैं कि कॉन्टेंट plagiarised है या नहीं।

ऐसी स्थिति में आपको पता ही होगा कि internet पर ऐसे कई सारे apps तथा tool उपलब्ध हैं जिनका इस्तेमाल करके आप english तथा hindi के content varify कर सकते हैं। इसमें आपको दोनों तरह के ऐप्स मिलेंगे –

Paid

Free

तो आज के इस आर्टिकल में हम यह जानेंगे कि किस प्रकार से हम अपने द्वारा लिखे गए अंग्रेजी और हिंदी में लिखे गए content को varify कर सकते हैं।

आज हम ऐसे free plagiarism tool के बारे में जानेंगे जिसका इस्तेमाल आप अपने ब्लॉगिंग या कंटेंट राइटिंग में कर सकते हैं। तो आइए जानते हैं ऐसे free plagiarism tool के बारे में जिसे इस्तेमाल करने के लिए आपका किसी

भी प्रकार का पैसा नहीं लगता और यह पूरी तरह से मुफ्त होता है।

Plagiarism क्या है

Plagiarism का अर्थ होता है, किसी दूसरे के ब्लॉग या कंटेंट से उसका आईडिया चुरा कर अपने ब्लॉग या कांटेक्ट में प्रस्तुत करना वह भी उसके ओरिजिनल ओनर (original owner) को क्रेडिट दिए बिना।

उदाहरण के तौर पर अगर आप अपने ब्लॉग या content में किसी दूसरे ज्यादा प्रसिद्ध रहने वाले ब्लॉक का आईडिया चुराकर लिखते हैं तो यह plagiarism कहलाता है।

यदि आप अपनी Blogging की फील्ड में आगे बढ़ना चाहते हैं और इसमें अपना करियर बनाना चाहते हैं, तो आपको plagiarism से दूर रहना चाहिए।

Plagiarism Checker क्या है

दोस्तों, आजकल सभी लोग चाहते हैं कि उनके द्वारा दिखाई गई थी में लोगों को कुछ नयापन दिखाई दे। Viewers भी हमेशा कुछ नया देखने की होड़ में ही रहते हैं । उन्हें किसी का कॉपी किया हुआ या plagriased content पसंद नहीं आता।

ऐसी स्थिति में Plagiarism Checker एक ऐसा उपाय है जो आपके लिए बहुत ही सहायक साबित हो सकता है। यह एक ऐसा सॉफ्टवेयर होता है।

जिसका इस्तेमाल करके आप किसी भी तरह के डाक्यूमेंट्स को चेक कर सकते हैं और यह देख सकते हैं, कि वह duplicate या plagiarised content तो नहीं है। कुछ Plagiarism tool बड़े ही advanced होते हैं।

यह पूरे इंटरनेट को स्कैन करके यह पता लगा लेते हैं कि आपके आर्टिकल को किसी ने इस्तेमाल किया है या अपने किसी दूसरे के आर्टिकल का प्रयोग किया है।

Plagiarism Checker को इस्तेमाल करने की क्या वजह होती है

अक्सर ऐसी टूल्स का इस्तेमाल कॉन्टेंट की ओरिजनलिटी को चेक करने के लिए किया जाता है। यह देखने के लिए कि कॉन्टेंट कही से कॉपी पेस्ट किया हुआ तो नहीं है।

ऐसी टूल्स की सहायता से आप आसानी से यह चेक कर सकते हैं कि आपका कांटेक्ट ओरिजिनल है या नहीं । इसे इस्तेमाल करके आप आसानी से cross-check कर सकते हैं।

यह सभी चीजें एक इंसान द्वारा करना असंभव हो जाता है। इसलिए लोग software का इस्तेमाल करके ऐसे कामों को पूरा करते हैं। softwareर का इस्तेमाल करने से यह काम जल्दी हो जाता है और हमारे सामने एक original content बनकर तैयार हो जाता है।

Hindi Plagiarism Checker Online 2020

दोस्तों, अगर आप भी अपने द्वारा दिखाए गए कांटेक्ट या ब्लॉक में originality या uniqieness चाहते हैं तो आप को plagiarism Checker का इस्तेमाल करना चाहिए।

वैसे तो आपने इस प्रकार के कई सारे टूल्स ऑनलाइन देखे होंगे और उनका इस्तेमाल भी किया होगा। लेकिन यहां हम आपको कुछ बेहतरीन टूल्स या app के बारे में बता रहे हैं,

जिसके बाद आपको किसी और सॉफ्टवेयर या ऐप को इस्तेमाल करने की जरूरत नहीं पड़ेगी । तो चलिए शुरू करते हैं –

1 . Copyscape

copyscape plagiarism tool

Copyscape एक बहुत ही बेहतरीन ऐप है । इसका इस्तेमाल करके आप फ्री में इसके द्वारा दी गई सर्विस इसका फायदा उठा सकते हैं। यह ऐप plagiarism या copy किए गए content का पता लगाने में काफी मददगार है। यह आप काफी अच्छी तरह से काम करता है।

2 . Google

google

अक्सर चीजों को सर्च करने के लिए हम हमेशा गूगल का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन अधिकतर लोगों को यह पता नहीं होता कि गूगल द्वारा हम plagiarism सब पता भी लगा सकते हैं। हालांकि content की duplicacy चेक करने में यह उतना कारगर नहीं है परंतु तब भी समांतर चीजों को पूरे इंटरनेट से ढूंढ कर यह आपके सामने रख देता है।

Google द्वारा यह पता लगाने में काफी मुश्किल रहता है, कि आपने कितने प्रतिशत कॉन्टेंट को किसी दूसरे के content से चुराया है या कितने प्रतिशत उसे plagiarised किया है।

3 . Quetext

quetext me plagiarism check kare

Quetext भी plagiarism check करने के लिए काफी बेहतरीन एप्लीकेशन है। इसका इस्तेमाल आप हिंदी और अंग्रेजी भाषा दोनों के आर्टिकल को चेक करने के लिए कर सकते हैं। इस ऐप को आप फ्री और पेट दोनों तरीके से इस्तेमाल कर सकते हैं।

लेकिन इस एप्लीकेशन के फ्री वर्जन को यूज करने की कुछ पाबंदियां है। इसमें आपको कॉपी किए हुए शब्द या वाक्य अंडर लाइन करे हुए मिलेंगे साथ ही साथ इसमें आपको plagiarised percentage भी दिखाया जाएगा।

4 . Plagiarism Detector

hindi content ki plagiarism check kaise kare - plagiarism detector

यह ऐप हिंदी के आर्टिकल को चेक करने के लिए काफी बेहतरीन और कारगर है और इस ऐप की सबसे बेहतरीन बात यह है कि यह पूरी तरह से Free है, यानी कि यह पूरी तरह से मुक्त है और इसमें किसी भी प्रकार के पैसे नहीं लगते।

इसके साथ ही साथ इसको इस्तेमाल करना भी काफी आसान है। इसमें आपको अपना कांटेक्ट केवल कॉपी पेस्ट करना रहता है। इसके बाद यह ऐप आपको copy किए हुए content या plagiarised content की पूरी जानकारी दे देता है। यह सबसे best app है।

5 . Duplichecker

duplicator plagiarism checker

यह website भी plagiarism check करने के लिए काफी मददगार और बेहतरीन है। इस ऐप की मदद से भी आप मुफ्त में अपने आर्टिकल को चेक कर सकते हैं ।

यह software आसानी से plagiarism detect करता है और अपनी सेवाएं मुफ्त में लोगों को प्रदान करता है। इसका इस्तेमाल करके आप अपने blogs या content की originality को बरकरार रखने के लिए कर सकते हैं।

इस software की सबसे अच्छी बात यह है कि यह इस्तेमाल करने के लिए काफी आसान है। इसका आसानी से इस्तेमाल करके ही आप चंद सेकेंड के अंदर results देख सकते हैं। यह आपको तुरंत या instant results देता है।

अगर आपको यह ऐप पसंद आ जाता है और आप इस ऐप का इस्तेमाल लंबे समय तक के लिए करना चाहते हैं तो बेहतर होगा कि आप इस ऐप पर खुद को register करवा लें।

registration किए हुए व्यक्ति को यह ऐप प्रतिदिन 50 आर्टिकल चेक करने का प्रावधान देती है वहीं दूसरी ओर बिना रजिस्टर्ड हुए आप 1 दिन में केवल एक ही आर्टिकल को चेक कर सकते हैं।

अन्तिम शब्द

तो दोस्तों आज हमने आपको बताया कि अपने ब्लॉग या कांटेक्ट की ओरिजिनल बनाए रखने के लिए बहुत जरूरी होता है कि आपका कांटेक्ट plagiarism free हो । तो अगर आप भी चाहते हैं कि आपके द्वारा दिखाया गया कांटेक्ट डुप्लीकेट ना हो है और plagiarism free हो तो ऊपर दिखाए गए तरीकों व apps का इस्तेमाल करें।

उम्मीद करते हैं कि अब आपको अपने कांटेक्ट को Plagiarism free बनाना आ गया होगा। आशा करते हैं कि आपको आज का आर्टिकल पसंद आया होगा।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *