gorilla glass kya hai

Gorilla Glass क्या है और इसके फायदे?

दोस्तों जैसा कि आप सभी को पता ही है, कि technology का दौर कितना तेजी से बढ़ रहा है और इस बढ़ती technology के बीच हर दिन नए-नए गैजेट सामने आते हैं।

कंपनियां gadget में नए-नए improvement भी करती है और जो भी नया गैजेट market में लॉन्च होता है।

तो उसके रेट की demand भी बहुत बढ़ जाती है। साथ ही उस गैजेट के बारे में जानकारी भी लोगों को मिलनी चाहिए। बिना जानकारी के लोग किसी भी गैजेट को नहीं खरीदते हैं।

तो दोस्तों जैसा कि आप सभी को पता ही है,कि mobile phone को बनाने वाली कंपनी द्वारा भी gorilla glass का उपयोग किया जाता है। ताकि मोबाइल फोन को और अधिक बेहतर तरीके से protect किया जा सके।

mobile screen ko gorila glass protect karta hai

दोस्तों क्या आप जानते हो कि gorilla glass क्या होता है? और गोरिल्ला ग्लास एक smart phone के लिए क्यों जरूरी है।

तो आज हम आपको इस article के माध्यम से गोरिल्ला ग्लास से जुड़े संपूर्ण जानकारी विस्तार से बताएंगे। इसलिए इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें।

गोरिल्ला ग्लास क्या है

गोरिल्ला ग्लास एक प्रकार का पर्यावरण अनुकूल glass होता है। जिसे एक alkali aluminosilicate के पतले सीट से बनाया जाता है और इस ग्लास को मुख्य रूप से इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस जैसे:- mobile phones, television, notebook आदि को सुरक्षित रखने के लिए बनाया जाता है।

और इस ग्लास को निवेश के अनुसार ही डिजाइन किया जाता है। ताकि वह ग्लास उस device पर adjust हो सके।

और साथ ही इस glass को कुछ अलग तरीके से बनाया जाता है। ताकि उस ग्लास पर आसानी से scratch न लग सके। अगर कोई device नीचे भी गिर जाता है। तो यह क्लास आसानी से टूटता नहीं है। लेकिन यह ग्लास बहुत ही महंगा होता है।

gorilla glass का इतिहास

gorilla glass की उत्पत्ति जिस तरह से हुई है। यह कहानी काफी रोचक है। गोरिल्ला ग्लास की उत्पत्ति science के एक गलत experiment की वजह से हुई है।

सन 1952 में जब Crooner के lab में एक वैज्ञानिक photosinthesis glaas को furnace में किसी test के लिए रख दिया। कुछ समय पश्चात furnace का टेंपरेचर लगभग 900 degree celcius पर पहुंच गया।

जिसके कारण से उस Scientist का फोटोसिंथेसिस ग्लास का Sample खराब हो गया। लेकिन जब उसने furnace को खोला, तो उसने पाया कि ग्लास Fluid रूप में melt हुआ है।

जब Scientist ने उस पिघले हुए glass को सुखाया,तब गिलास की एक सीट निकली। जो Scientist द्वारा हाथ में लेते वक्त नीचे गिर गई। लेकिन तब वह glass की गिलास टूटने की बजाय bounce हुई। तो वैज्ञानिकों के लिए यह एक अद्भुत खोज साबित हो गई।

उसके पश्चात फरवरी 2008 को इस गोरिला glass का सबसे पहला संस्करण Corning Gorilla Glass 1 लॉन्च किया गया। उसके पश्चात बढ़ती technology के साथ साथ इस gorilla glassस के नए-नए edition आते रहे।

आज तक लगभग 5 गोरिल्ला ग्लास के संस्करण लांच हो चुके हैं।

सबसे पहले गोरिल्ला ग्लास का उपयोग samsung के galaxy note 7 स्मार्टफोन पर किया गया था। जानकारी के लिए आपको बता दूं, कि gorilla glass का उपयोग ना सिर्फ मोबाइल में किया जाता है।

samsung galaxy note 7 - gorilla glass

इसका उपयोग tv, computer और smart watch के display बनाने में भी किया जाता है गोरिल्ला ग्लास को बनाने वाली कंपनी इस ग्लास का प्रत्येक वर्जन दिन प्रतिदिन मजबूत करती जा रही है। इस ग्लास को america, koria और taiwan इत्यादि देशों ने मिलकर बनाया है।

गोरिल्ला ग्लास मोबाइल इतना बेहतर क्यों

gorilla glassजो एक एडवांस technology से तैयार किया गया अद्भुत और बेहतरीन ग्लास है। इसका उपयोग मुख्य तौर पर mobile पर टेंपल ग्लास के रूप में किया जाता है।

इस ग्लास को Chemical reaction से गुजारा जाता है। जिसकी वजह से यह ग्लास बेहतर तरीके से तैयार होता है। गोरिल्ला ग्लास को जिस Chemical reaction से गुजारा जाता है। उसे लोन एक्सचेंज भी कहते हैं।

इस दौरान ग्लास को माउंटेन poteshiyam shaalt में कुछ समय के लिए रखा जाता है और उस समय वहां का tempreture करीब 400 डिग्री centigrade होता है। जिसके कारण आयन ग्लास को छोड़ देता है और बड़े poteshiyam आयन उसकी जगह ले लेते हैं।

इस तरह से आयन एक दूसरे से जुड़कर एक लेयर तैयार करते हैं। इसी स्पेशल कंपटीशन के कारण poteshiyam ion अच्छी तरह से घुल जाते हैं। इसीलिए ग्लास काफी मजबूत और बेहतर है।

Gorilla Glass के फायदे

जो भी वस्तु इस प्रकृति में मौजूद है। उस वस्तु का किसी न किसी प्रकार से फायदा अवश्य है। उसी प्रकार से gorilla glass सामान्य ग्लास के मुकाबले में काफी अलग और बेहतर है।
यह गोरिल्ला ग्लास सामान्य ग्लास के मुकाबले में काफी शक्तिशाली और मजबूत है।

इसलिए इस ग्लास का उपयोग हर जगह किया जाता है। आज के समय में इस ग्लास का उपयोग लगातार बढ़ता जा रहा है। देखा जाए तो टेंपर ग्लास के रूप में भी इस gorilla glass का उपयोग किया जाता है।

यह ग्लास सामान्य मुक्त ग्लास के मुकाबले में दिखने में बहुत सुंदर है। इस ग्लास से Transparency बढ़िया नजर आती है।

यह गोरिल्ला ग्लास Scratch resistant भी होता है।

gorilla glass सामान्य क्लास के मुकाबले में बहुत पतला होता है। ताकि इसका उपयोग हर जगह आसानी से किया जा सके। इसके अलावा यह glass उच्च तापमान को सहने की ताकत रखता है।

Gorilla Glass के नुकसान

दूसरी तरफ यदि गोरिल्ला ग्लास के नुकसान की बात की जाए तो इस ग्लास के कुछ नुकसान भी है। जो नीचे निम्नलिखित रुप से दिए गए हैं।

grilla glass का निर्माण करना काफी मुश्किल है। क्योंकि एडवांस technology से बनाई है। गोरिल्ला ग्लास जिसको बनाने में बहुत ज्यादा समय और पैसा भी अधिक लगता है इसे बनाना आसान नहीं है। इस ग्लास का निर्माण सीमित जगहों पर ही है।

इसीलिए यह गोरिल्ला ग्लास खरीदने पर महंगा भी पड़ता है।
इस ग्लास को बनाने के लिए manufacturing से ज्यादा इस ग्लास पर उपयोग किए जाने वाले chemical जिनका खर्चा अधिक होता है।

क्योंकि इस ग्लास manufacturing से ज्यादा केमिकल का इस्तेमाल होता है।

mobile device और कई अन्य इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस पर इस क्लास का उपयोग जब से शुरू हुआ है। तब से मोबाइल के साथ-साथ अन्य electronic डिवाइस की कीमत में भी बढ़ोतरी हो गई है।

यह गोरिल्ला ग्लास Scratch resistant होती हैं लेकिन ये Scratch proof नहीं है।

This Article Has 1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *